टालमटोल करना कैसे छोड़ें? | How To Overcome Procrastination

How To Overcome Procrastination : असफलता! एक ऐसा शब्द है जिसे इस दुनिया का कोई भी व्यक्ति पसंद नहीं करता लेकिन सच यह है कि दुनिया के अधिकतर लोगों ने असफलता को जाने या अनजाने में अपना अच्छा दोस्त बनाया हुआ है।

बहुत से लोगों को असफल होने की आदत (Habit of failure) सी हो गयी है। आज आप अपने चारों ओर नजर डालिये, आपको बहुत से लोग ऐसे मिल जायेंगे जो असफल हैं और असफल होना उन्होंने अपनी आदत बना लिया है या यह कह सकते हैं कि असफलता को उन्होंने अपना सबसे अच्छा दोस्त बना लिया है।

how to overcome procrastination hindi
Overcome Procrastination

असफलता एक ऐसा दोस्त है जो बहुत ईमानदार है। जो व्यक्ति असफलता को अपना दोस्त बनाता है, असफलता उसका साथ तब तक नहीं छोड़ती जब तक उससे दोस्ती करने वाला व्यक्ति उसे न छोड़ दे।

मैं आपको बता दूँ कि यहाँ असफल व्यक्ति से मतलब किसी ऐसे व्यक्ति से नहीं है जो बहुत गरीब हो, बहुत तनाव में हो और उसे कोई बहुत बड़ा फेलियर मिला हो।

यहाँ असफल व्यक्ति से मतलब उस व्यक्ति से है जो आज तक वह कार्य सही तरीके से शुरू ही न कर पाया हो जिसे वह लक्ष्य बनाकर करना चाहता था। इस दुनिया में ऐसे असफल लोग बहुत ज्यादा हैं।

अब प्रश्न यह है कि एक ऐसी चीज (असफलता) जिसे कोई पसंद नहीं करता लेकिन फिर भी वह दुनिया के अधिकतर लोगों के पास है, ऐसा क्यों?

ऐसा इसलिए क्योंकि उन अधिकतर लोगों ने अपने अंदर कुछ ऐसी आदतें डाल ली हैं जो असफलता को बहुत पसंद है।

आपकी आदतें ही यह निर्णय करती हैं कि आपकी दोस्ती सफलता से होगी या असफलता से होगी।

आपकी आदतें ही वह टर्निंग पॉइंट है जहाँ से यह पता चलता है कि आप शिखर की ओर जायेंगे या पतन की ओर जायेंगे।

लोगों ने ऐसी आदतें बनायीं हुई हैं जो असफलता के लिए चुम्बक का कार्य करती हैं। अब इस चुम्बक (गलत आदतें) को लिए हुए यदि कोई व्यक्ति इस धरती पर रहता है और चाहता है कि उसे सफलता मिले, तो ऐसा संभव ही नहीं है।

अधिकतर लोगों में ऐसी आदतें मौजूद हैं। यही कारण है कि दुनिया के 10% लोगों के पास दुनिया की 90% दौलत है और 90% लोगों के पास 10% दौलत है। कारण क्लियर है कि ऐसा क्यों है।

बहुत सी ऐसी आदतें जो असफलता को चुम्बक की तरह अपनी ओर खींचती हैं, उनमे से एक ऐसी आदत है जो चुम्बक बनी गलत सभी आदतों की लीडर है।

क्या आप उस लीडर आदत के बारे में जानना चाहेंगे?

दोस्तों, उस लीडर आदत का नाम है- टालमटोल की आदत (Habit of Procrastination)। यह एक ऐसी आदत है जो महामारी की तरह लोगों के दिल और दिमाग में बसी हुई है।

यह एक ऐसी लीडर आदत है जिसने अधिकतर लोगों को अपाहिज बनाया हुआ है।

एक ऐसा अपाहिज जो चल तो सकता है लेकिन बैशाखी के साथ। वह देख तो सकता है लेकिन निराशा नाम के चश्मे के साथ।

वह हर काम कर सकता है जो साधारण इंसान करता है लेकिन इस सोच के साथ कि काश! यह काम मैंने पहले या समय रहते कर लिया होता तो आज मैं वो होता जो बनने के लिए मैंने सोचा था।

नेपोलियन हिल ने अपने 20 साल के रिसर्च में सफल लोगों का अध्ययन किया। इस रिसर्च में उन्होंने सभी सफल लोगों में एक आदत को पाया और वह आदत थी- तुरंत निर्णय लेने की आदत (Quick Decision Making Habit)।

सफल लोगों की यह आदत असफल लोगों की ‘लीडर आदत’ के ठीक उलटी है।

जहाँ असफल लोगों की ‘लीडर आदत’ का नाम ‘टालमटोल की आदत’ है वही सफल लोगों की ‘लीडर आदत’ का नाम ‘तुरंत निर्णय लेने की आदत’ है।

एक और केवल आदत इंसान को या तो सफलता के शिखर पर पहुंचा देती है या फिर उसे गुमनामी के देश में ले जाती है।

अब आप बताओ कि आपको कौन सी आदत को अपना दोस्त बनाना है? ‘टालमटोल की आदत’ या ‘तुरंत निर्णय लेने की आदत’?

मुझे मालूम है कि आप तुरंत निर्णय लेने की आदत को अपना दोस्त और अपना हमसफ़र बनाना चाहते हो टालमटोल की आदत छोड़ना (Overcome Procrastination) चाहते हो।

तो मुबारक हो, देर किस बात की है आज ही और अभी कोई ऐसा निर्णय लीजिये जिससे आपका आने वाला कल आज से अच्छा हो सके। जी हाँ! अभी निर्णय लीजिये…………………. 

अब यदि आपने निर्णय ले ही लिया है तो कृपया आप हमें और हमारे पाठकों को भी बता सकते हैं कि आपने अपना कल अच्छा बनाने के लिए आज क्या निर्णय लिया है।

आप अपने इस मूल्यवान निर्णय को नीचे कमेंट में बता सकते हैं। अब यह निर्णय आपका है कि आपने अभी कोई निर्णय लिया है या नहीं।

यदि लिया तो आप सफल लोगों की लिस्ट का हिस्सा बनने जा रहे हैं। और यदि निर्णय नहीं किया है तो क्लियर है कि आपने टालमटोल की आदत को अपना दोस्त बना रखा है।

जो भी हो यदि किसी भी इंसान को सफल होना है तो उसे आज और अभी निर्णय लेना ही चाहिए।

तुरंत निर्णय लेने की आदत केवल एक आदत नहीं बल्कि यह एक ऐसी शक्ति है जिसका उपयोग करके इतिहास में बड़े बड़े साम्राज्य बनाये गए।

इसी शक्ति का उपयोग करके इस धरती पर नए नए आविष्कार हुए और आज भी हो रहे हैं।

एलन मस्क ने समझा कि आज दुनिया को किस चीज की जरुरत है। जब उसकी समझ में आया कि किस चीज की जरुरत है तो उसने तुरंत उसे बनाने का निर्णय लिया और आज टेस्ला दुनिया की नंबर वन इलेक्ट्रिक कार है।

किसी भी कार्य को तब तक टालना जब तक कि काम को टालना एक गलत आदत न बन जाये, इससे ज्यादा बड़ी गलती किसी भी इंसान के जीवन में कोई नहीं हो सकती।

लेकिन आपके लिए खुशी की बात यह है कि टालने की इस गलत आदत को बदला जा सकता है और साथ ही साथ तुरंत निर्णय लेने की आदत को थोड़ी प्रैक्टिस के साथ अपनाकर एक अच्छा दोस्त बनाया जा सकता है।

लेकिन कैसे? टालमटोल की आदत को कैसे छोड़ें? (How To Overcome Procrastination)

टालमटोल करना कैसे छोड़ें?

How To Overcome Procrastination

आइये मैं आपको टालमटोल छोड़ने एक बेहतरीन तरीका (Way to Overcome Procrastination) बताता हूँ जिनको अपनाकर आप टालमटोल की आदत को छोड़कर तुरंत निर्णय लेने की आदत को अपना सकते हैं-

1- टालने की आदत छोड़ने का सबसे अच्छा तरीका है निर्णय लेने की आदत। क्योकि दोनों आदतें एक दूसरे के विपरीत हैं इसलिए यदि निर्णय लेना शुरू करोगे तो काम को टालना खुद छूट जायेगा।

2- सबसे पहले छोटे छोटे निर्णय लेना शुरू कीजिये। बाद में यही छोटे निर्णय आपको बड़े निर्णय लेने को मोटीवेट कर देंगे।

3- यदि आप एक्सरसाइज करना चाहते हैं और काफी समय से इसे टाल रहे हैं। तो एक छोटा सा निर्णय लीजिये कि कल से आप सिर्फ एक मिनट तक कोई भी एक्सरसाइज करेंगे। मुझे लगता है कि कोई भी इस निर्णय को पूरा कर सकता है।

4- इस एक मिनट को धीरे धीरे आपको बढ़ाते जाना है। सबसे अच्छी बात आपको समय बढ़ाने के लिए प्रयास ही नहीं करना पड़ेगा बल्कि यह एक्सरसाइज टाइम खुद यानि बिना प्रयास के बढ़ जायेगा।

5- एक्सरसाइज टाइम बिना प्रयास के इसलिए बढ़ जायेगा क्योंकि यहाँ आपको अपने ही किये कार्य (एक मिनट कसरत) से प्रेरणा मिलनी शुरू हो जाएगी। इस तरह आप किसी भी कार्य को टालना छोड़ सकते हैं।

6- ऊपर बताये गए तरीके में एक नियम कार्य करता है। वह नियम यह है कि जब आप बहुत कम समय के लिए कोई काम करने निर्णय लेते हैं तो आप उसे पूरा कर लेते है क्योंकि यह बहुत ज्यादा आसान होता है।

बाद में आपको इसी कार्य से प्रेरणा मिलनी शुरू हो जाती है और आप उसकी वजह से वही काम ज्यादा करने लगते हैं।

यह नियम मैंने 1% Formula किताब से लेकर आपको बताया है। यदि आप चाहें तो यह Self Help Book यहाँ से खरीदकर पढ़ सकते हैं-

1% Formula Book

साथ ही यदि आप टालने की आदत को छोड़ने और तुरंत निर्णय लेने की शक्ति के बारे में और ज्यादा जानना चाहते हैं तो आप हमारे यह आर्टिकल पढ़ सकते हैं-

1- अब तो टालना छोड़ दीजिये | Story On Stop Procrastinating

2- छोटे प्रयासों से बड़ी सफलता कैसे पाएं?

————-*******———— 

दोस्तों! यह लेख How To Overcome Procrastination in Hindi आपको कैसा लगा? यदि यह Hindi Article on “Ways To Overcome Procrastination” आपको अच्छा लगा तो आप इस हिंदी लेख को Share कर सकते हैं।

इसके अतिरिक्त आप अपना Comment दे सकते हैं और हमें E.Mail भी कर सकते हैं।

यदि आपके पास Hindi में कोई Article, Inspiring story, Life Tips, Inspiring Poem, Money Tips या कोई और जानकारी है और यदि आप वह हमारे साथ Share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ हमें E-mail करें।

हमारी E.Mail Id है– aapkisafalta@gmail.com यदि आपकी Post हमें पसंद आती है तो हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ अपने ब्लॉग पर Publish करेंगे। Thanks!

3 thoughts on “टालमटोल करना कैसे छोड़ें? | How To Overcome Procrastination”

  1. प्रणाम सर

    टालमटोल की आदत .. यह एक ऐसा विषय है जिसको लेकर कई लोग न सिर्फ त्रस्त रहते है वरन अपने आस – पास के लोगों को भी परेशान करते है .. आपका यह विस्तारपूर्वक लिखा गया लेख टालमटोल की आदत के लिए आवश्यक हर पहलु पर प्रकाश डालता है .. आशा है आप इसी तरह आगे भी विभिन्न विषयों पर अपना अनुभव एवं ज्ञान साझा करते रहेंगे ..

    धन्यवाद

    Reply
  2. Hi First of all i want to say Thank you GOD (because of ) that aapne etni achchi baate online dalne ka decision liya aur logo ke ander achchai badhane main etna support kiya you are realy great and aapki ye baate bahut se logo ko ek bright future provide karayengi thank you.
    and Good news for you that i also choose to decide to “take decision” not Delay.

    Reply
  3. आपकी बात में सच्चाई होती है, सच में धन्यवाद्

    Reply

Leave a Comment