तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो Poem On Struggle

जीवन में यदि आपको सफल (successful) होना है तो सफलता के रास्ते (way of success) पर तो आपको चलना ही होगा। इस रास्ते में शुरू से लेकर मंजिल (Goal) पाने तक का सफर बहुत सी खट्टी और मीठी परिस्थितियों का मिला जुला एहसास होता है।

जीवन एक संघर्ष है (Life is a struggle)। इसमें कभी खुशियों के फूल खिलते हुए दिखाई देते हैं तो कभी दुःख के कांटे चुभते हुए साफ़ महसूस किये जा सकते हैं।

poem on struggle in hindi
Be Like A Lamp

लेकिन मंजिल (Target) तक वही पहुंचता है जो इस सभी परिस्थितियों को पार करता हुआ चलता चला जाता है और जो परेशानियों के आने से रास्ता छोड़कर नहीं भागता है सुख आने से रास्ता नहीं भटकता।

आइये दोस्तों! इन्हीं खट्टी मीठी परिस्थितियों के एहसास की मोतियों से बनी एक माला एक प्रेरक कविता (Motivational Poem On Struggle In Life) के रूप में आपके सामने रखने जा रहा हूँ।

कृपया इस हिंदी कविता (Hindi Poem) को ध्यान से पढ़ें और इसकी प्रत्येक लाइन के एहसास को अपने अंदर महसूस करते हुए आगे बढ़ते जाएँ। आशा करता हूँ कि यह कविता (Poem In Hindi) आपको पसंद आएगी।

तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो

(प्रेरणादायक हिंदी कविता)

तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो,

बरसात में सैलाब न लाये वह दरिया बनो,

क्योंकि सहनशीलता से विकास होता है,

और उग्रवादिता से विनाश होता है।

————-*******————

जीवन फूलों का बिस्तर नहीं कांटों का सफर है,

अपनी गाड़ी में ब्रेक लगाये चलो टेढ़ी मेढ़ी डगर है,

इस सफर में हर कोई कभी सुख तो कभी दुःख ढोता है

कभी कोई हँसता है तो कभी कोई रोता है।

————-*******————

तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो,

बरसात में सैलाब न लाये वह दरिया बनो,

क्योंकि सहनशीलता से विकास होता है,

और उग्रवादिता से विनाश होता है।

————-*******————

गम में तुम टूट ना जाना, खुशी में बह ना जाना,

हर हालात में हँसते रहना, हँस के मुश्किल को भगाना,

यहाँ हर कोई अच्छे लम्हों को पिरोता है,

और बुरे दिनों में अपना तकिया भिगोता है।

————-*******————

तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो,

बरसात में सैलाब न लाये वह दरिया बनो,

क्योंकि सहनशीलता से विकास होता है,

और उग्रवादिता से विनाश होता है।

————-*******————

ग़र मिल गई हो मंजिल तो खुद को रुकने ना देना,

खुद को Update करते रहना, अपनी Energy ना खोना,

क्योंकि Update से मन आलस को खोता है,

और Positive energy से खुद को संजोता है।

————-*******————

तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो,

बरसात में सैलाब न लाये वह दरिया बनो,

क्योंकि सहनशीलता से विकास होता है,

और उग्रवादिता से विनाश होता है।

————-*******————

एक पल को रुक कर अपने अतीत को देखो,

जिसमें तुम कितने उत्साही थे मंजिल पाने को,

खोना ना कभी खुद पे जो भरोसा है,

डंटे रहो अगर बहती हवा का झोंका है।

————-*******————

तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो,

बरसात में सैलाब न लाये वह दरिया बनो,

क्योंकि सहनशीलता से विकास होता है,

और उग्रवादिता से विनाश होता है।

 Tuphan Me Bhi Jalta Rahe Veh Diya Bano

(Inspirational Poem In Hinglish)

 

Tuphan me bhi jalta rahe veh diya bano,

Barsaat me sailaab na laye, veh dariya bano,

Kyoki sehensheelta se vikaas hota hai,

Aur ugravadita se vinash hota hai.

————-*******————

Jeevan phoolon ka bistar nahin kanton ka safar hai,

Apni gadi me break lagaye chalo tedhi medhi dagar hai,

Is safar me har koi kabhi sukh to kabhi dukh dhota hai,

Kabhi koi hansta hai to kabhi koi rota hai.

————-*******————

Tuphan me bhi jalta rahe veh diya bano,

Barsaat me sailaab na laye, veh dariya bano,

Kyoki sehensheelta se vikaas hota hai,

Aur ugravadita se vinash hota hai.

————-*******————

Gam me tum toot na jana, khushi me beh na jaana,

Har halaat me hanste rehna, hans ke mushkil ko bhagana,

Yahan har koi acche lamho ko pirota hai,

Aur bure dino me apna takiya bhigota hai.

————-*******————

Tuphan me bhi jalta rahe veh diya bano,

Barsaat me sailaab na laye, veh dariya bano,

Kyoki sehensheelta se vikaas hota hai,

Aur ugravadita se vinash hota hai.

————-*******————

Gar mil gai ho manjil to khud ko rukne na dena,

Khud ko Update karte rehna, apni Energy na khona,

Kyonki Update se man aalas ko khota hai,

Aur Positive Energy se khud ko sanjota hai,

————-*******————

Tuphan me bhi jalta rahe veh diya bano,

Barsaat me sailaab na laye, veh dariya bano,

Kyoki sehensheelta se vikaas hota hai,

Aur ugravadita se vinash hota hai.

————-*******————

Ek pal ko ruk kar apne ateet ko dekho,

Jisme tum kitne utsahit the manjil pane ko,

Khona na kabhi khud pe jo bharosa hai,

Date raho agar behti hava ka jhoka hai.

————-*******————

Tuphan me bhi jalta rahe veh diya bano,

Barsaat me sailaab na laye, veh dariya bano,

Kyoki sehensheelta se vikaas hota hai,

Aur ugravadita se vinash hota hai.

By- Raj Kumar Yadav

Email : rajkumaryadav.rky123@gmail.com

“तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो (Burning in the Storm, Be like a Lamp)” यह कविता (Hindi Inspirational Poem) हमें राज कुमार यादव जी ने भेजी है जो गोपालगंज, बिहार से हैं। राज जी को कवितायेँ लिखने का बहुत शौक है। राज कुमार जी का बहुत बहुत धन्यवाद ! हम राज कुमार जी को उनके बेहतर भविष्य के लिए शुभकामनायें देते है।

 ————-*******———— 

दोस्तों! यह Best Poem or Motivational Kavita आपको कैसी लगी? यदि यह Hindi Kavita on “Struggle In Life For Success आपको अच्छी लगी तो आप इस हिंदी कविता को Share कर सकते हैं।

इसके अतिरिक्त आप अपना Comment दे सकते हैं और हमें E.Mail भी कर सकते हैं।

 यदि आपके पास Hindi में कोई Article, Inspiring story, Life Tips, Poem, Hindi Quotes, Money Tips या कोई और जानकारी है और यदि आप वह हमारे साथ Share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ हमें E-mail करें। हमारी E.Mail Id है– aapkisafalta@gmail.com यदि आपकी Post हमें पसंद आती है तो हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ अपने ब्लॉग पर Publish करेंगे। Thanks!

10 thoughts on “तूफान में भी जलता रहे वह दीया बनो Poem On Struggle”

  1. जीवन मे संघर्ष ना हो
    कया ओ जीवन है
    जैसे सब्जी बिना नमके
    ऐसी हमारी कहानी है…

    Reply
  2. I need one more additional paragraph as i am reciting this poem in poetry competition.Pls give a some suggestion.I need some more lines.Thks for help if you do so … pls try making one

    Reply
  3. कविता बहुत ही अच्छी है | बहुत सार छुपा है इस कविता में | आप ने खुद लिखी है ये कविता राज कुमार आपने बहुत ही अच्छी कविता लिखी है | शर्मा जी आप अपनी वेबसाइट में बहुत अच्छा कार्य करते है |

    Reply

Leave a Comment